कार्तिक माह में प्रभु सिमरन विषेश फलदायी - अधि. ममतानी - KhabarBat™

Breaking

KhabarBat™

२००९ पासून वाचकांच्या सेवेत



११ नोव्हेंबर २०२१

कार्तिक माह में प्रभु सिमरन विषेश फलदायी - अधि. ममतानी

कार्तिक माह में प्रभु सिमरन विषेश फलदायी - अधि. ममतानी


नागपुर। श्री गुरु नानकदेवजी की 552 वीं जयंती निमित्त गुरबाणी के प्रचार-प्रसार केन्द्र श्री कलगीधर सत्संग मंडल द्वारा आयोजित मध्य भारत में प्रभात सिमरन में प्रातः 4 से 6 बजे तक भक्तगणों का माथा ढांककर अनुशासन में हरीकीर्तन करना देखते ही बनता है।

आज प्रभात सिमरन के प्रवचन में संयोजक अधि. माधवदास ममतानी ने उपस्थित श्रद्धालुओं को बताया कि कार्तिक माह में अकाल पुरख परमात्मा का गुणगान करना विशेष फलदायी है। जिस प्रकार एक विद्यार्थी प्रतिदिन तो पढ़ाई करता हैं परंतु परीक्षा के दिनों में अध्ययन का उसे विशेष लाभ मिलता है। ठीक उसी प्रकार कार्तिक माह में प्रभु सिमरन करने से गुरु महाराज का आशीर्वाद रुपी विशेष फल मिलता है। गुरबाणी फरमाती है-‘‘कतिक होवै साध संगु, बिनसहि सभै सोच।।’’ हिंदू कैलेंडर के अनुसार वर्ष में 12 चंद्र माह होते हैं इन 12 माहों में कार्तिक आठवां माह हैै। प्राचीन ग्रंथों के अनुसार इस माह में दान, स्नान, तुलसी पूजन तथा हरीकीर्तन का अत्यधिक महत्व है। पदम पुराण के अनुसार कार्तिक माह धर्म, अर्थ, काम तथा मोक्ष देने वाला है। कार्तिक माह के आरंभ होते ही श्रद्धालुजन काकड़ा आरती, दान, ब्रम्हमुहुर्त में स्नान तथा विभिन्न तरह से पूजा-पाठ प्रभु सिमरन व गायन करते हैं।

अधि. माधवदास ममतानी ने अपने जारी प्रवचन में बुद्धिजीवियों से आग्रह किया कि आज के आधुनिक युग में वे प्रभु सिमरन व गायन से जुड़े तथा अपने दुखों को दूर कर मनोकामनाएं पूरी करें। गुरबाणी फरमाती है कि ‘सरब सूख हरि नामि वडाई।। गुर प्रसादि नानक मति पाई।’ अर्थात हमें सब सुख चाहिए तो प्रभु के गुण गाएं और दुखों से मुक्ति पाएं। इस सृष्टि का कर्ता पारब्रह्म परमेश्वर है और उसकी आज्ञा से ही नरक-स्वर्ग, जनम-मरण, सुख-दुख इत्यादि-इत्यादि इस जीव को प्राप्त होते हैं। अतः अधि. ममतानी ने उपस्थित सभी श्रद्धालुओं को संदेश दिया कि ‘‘प्रभात सिमरन में आईए, गाईए और पाईए।’’

प्रभात सिमरन में नित्य विभिन्न धार्मिक संस्थाओं, पंचायतों, धर्म-जाति-समुदायों के लोग श्रद्धापूर्वक गुरुओं के झांकियों पर माल्यार्पण कर स्वागत कर शामिल हो रहे हैं। सिंधी समाज की आहुजा नगर, मेकोसाबाग, हेमू कालानी, कुकरेजा नगर, नाग विदर्भ सेंट्रल सिंधी पंचायत इत्यादि पंचायतें गुरु नानक जयंती निमित्त आयोजित प्रभात सिमरन में श्रद्धापूर्वक शामिल हो रहे हैं। आज प्रभात सिमरन में जरीपटका क्षेत्र के नगर सेवक श्री विरेन्द्र कुकरेजा, मेकोसाबाग पंचायत के सांई फकीरा, कोडूमल धनराजानी, बंटी दुधानी, राष्ट्रीय सिंधी भाषा विकास परिषद के वाइस चेअरमैन श्री घनश्याम कुकरेजा, नगरसेवक दिनेश यादव, सुखजीवन कॉलोनी के दीपक अरोरा व अन्य, एड. मनोज मोरयानी, कुकरेजा नगर पंचायत के अध्यक्ष पप्पु केवलरामानी व अन्य सदस्य इत्यादि गणमान्य नागरिकों ने गुरु महाराज को माल्यार्पण कर आशीर्वाद प्राप्त किया।