श्री जैन श्वेतांबर तेरापंथी सभा कांकरोली आचार्य तुलसी का जन्मदिन अनुरोध दिवस के रूप में मनाया गया - KhabarBat™

Breaking

KhabarBat™

२००९ पासून वाचकांच्या सेवेत



०६ नोव्हेंबर २०२१

श्री जैन श्वेतांबर तेरापंथी सभा कांकरोली आचार्य तुलसी का जन्मदिन अनुरोध दिवस के रूप में मनाया गया


रिपोर्टर पप्पू लाल कीर



काकरोली। आचार्य श्री महाश्रमण जी के आज्ञा अनुवर्ती मुनि श्री संजय कुमार  मुनि श्री प्रकाश कुमार  एवं मुनि श्री सिद्ध प्रज्ञ के पावन सानिध्य में आचार्य श्री तुलसी का 108 वां जन्मदिन अनुरोध दिवस के रूप में मनाया गया और वह गीत से  लता मादरेचा  एवं   चंचल जैन ने मंगलाचरण किया
मुनि श्री संजय कुमार  ने कहा आचार्य तुलसी ने अनुरोध के माध्यम से मानवता के कल्याण का कार्य किया वही उन्होंने धर्म संघ को आगे बढ़ाने महै आचार्य श्री तुलसी के जीवन को समझ कर अपने जीवन में संयम का विकास करें।
मुनि श्री सिद्ध प्रज्ञ  ने अपनी शैली में कहा मेरा सौभाग्य रहा कि मुझे इतने महान आचार्य के हाथों से दीक्षा लेने का सौभाग्य प्राप्त हुआ उनके शासनकाल में मुझे देश में नहीं विदेशों में भी जाने का मौका मिला शिक्षा और साधना दोनों का खुला आकाश मिला अनुरोध के माध्यम से हम अपने जीवन में नैतिक मूल्यों का विकास करें हिंसक चेतना का जागरण करें आचार्य तुलसी का यह वरदान सदा स्वतंत्र भारत के आजाद भारत के निवासी याद रखेंगे
वरिष्ठ अतिथि अनुव्रती  चतुर  कोठारी ने कहां अनुव्रत इंसान को इंसान बनाता है हमें संयम प्रधान जीवन शैली को अपनाना चाहिए
मुख्य अतिथि  जीतमल  कछारा ने कहां आचार्य तुलसी ने अणुव्रत आंदोलन के द्वारा पदयात्रा की और जन-जन में नैतिक शिक्षा जगाई।
समिति के पूर्व अध्यक्ष  अचल   धर्मावत ने   तुलसी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए अनुव्रत की बात समझाई
गणपत धर्मावत ने कहा कि हमें अनुव्रत  को समझने के आचार्य तुलसी को जानना होगा
तेरापंथ सभा के अध्यक्ष प्रकाश  सोनी ने सभी का स्वागत करते हुए अनुभव एवं आचार्य तुलसी के बारे में मजेदार विचार व्यक्त किए
 मदन धोका ने  कहां हमें जीवन को बदलने के लिए अनुव्रत को हृदय से अपनाना चाहिए
इस अवसर पर कल्याण मल  विजयवर्गीय ने श्रद्धा सत्य विचार व्यक्त किए तथा रेलमगरा से समा गत सुश्री श्रद्धा मेहता ने सु मधुर गीत का संज्ञान किया।
 कार्यक्रम का सफल संचालन समिति के संगठन मंत्री श्री रमेश मांडोत ने कुशलता पूर्वक किया।