उपराष्ट्रपति कल वियतनाम की चार दिवसीय यात्रा पर - KhabarBat™

Breaking

KhabarBat™

kavyashilp™ Digital Media •Reg• MH20D0050703

०८ मे २०१९

उपराष्ट्रपति कल वियतनाम की चार दिवसीय यात्रा पर



  • श्री नायडू वियतनाम के नेताओं के साथ उच्च-स्तरीय वार्ता करेंगे
  • वेसाक के 16 वें संयुक्त राष्ट्र दिवस में शामिल होंगे

नई दिल्ली - उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू 9 मई को वियतनाम की चार दिवसीय सरकारी यात्रा पर जा रहे हैं। उनकी इस यात्रा से दक्षिण पूर्व एशियाई देश के साथ भारत की व्यापक रणनीतिक साझेदारी में बढोतरी होने की उम्मीद है।

वियतनाम के नेताओं के साथ बातचीत करने के अलावा उपराष्ट्रपति 12 मई को वियतनाम के उत्तरी हॉ नाम प्रांत स्थित ताम चुक पैगोडा में वेसाक के16 वें संयुक्त राष्ट्र दिवस में शामिल होंगे। उपराष्ट्रपति इस कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र में ‘वैश्विक नेतृत्व के लिए बौद्धिक दृष्टिकोण और स्थाई समाज के लिए साझा जिम्मेदारी’ विषय पर मुख्य भाषण देंगे।

वियतनाम की राजधानी हनोई आगमन पर श्री नायडू भारत के राजदूत द्वारा आयोजित एक स्वागत समारोह में भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे।

अगले दिन, उपराष्ट्रपति वीरों और शहीदों के राष्ट्रीय स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे और उसके बाद राष्ट्रपति महल जायेंगे, जहां पर उनका औपचारिक स्वागत किया जाएगा।

श्री नायडू वियतनाम के उपराष्ट्रपति श्री डांग थी न्गोक थिन्ह के साथ भी बातचीत करेंगे और प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता करेंगे। वे वियतनाम की राष्ट्रीय असेंबली के चेयरपर्सन श्रीमान मी गुयेन किम थी नगन से भी मुलाकात करेंगे।

उच्च स्तरीय वार्ता के दौरान, श्री नायडू और उनके मेजबानों के मध्य व्यापार और निवेश संबंधों सहित कई मुद्दों पर चर्चा होने की उम्मीद है। भारत के निर्यात के लिए बेहतर बाजार पहुंच प्रदान करने, तेल और गैस क्षेत्रों में अवसरों की खोज करने, वियतनाम में भारतीय फार्मास्युटिकल सेवाओं के लिए सहायता प्रदान करने, रक्षा और अंतरिक्ष प्रौद्योगिकियों में सहयोग, वियतनामी रक्षा बलों के लिए प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण और दोनों देशों के बीच सांस्कृतिक संबंधों को मजबूत बनाने के बारे में बातचीत होने की उम्मीद है।

11 मई को, श्री नायडू हो ची मिन्ह के मकबरे पर जायेंगे जहां वे दिवंगत राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि देंगे। श्री नायडू महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के उपलक्ष्य में शुरू की गई ‘मानवता के लिए भारत’पहल के तहत वियतनाम में आयोजित ‘जयपुर फुट आर्टिफिशियल लिम्ब फिटमेंट कैंप’ के वियतनामी लाभार्थियों और भारतीय समुदाय से भी मुलाकात करेंगे।

दोपहर में, एक अलग कार्यक्रम में श्री नायडू वियतनाम के प्रधान मंत्री श्री गुयेन जुआन फुक से से भी मुलाकात करेंगे।

12 मई को, उपराष्ट्रपति वियतनाम के हा नाम प्रांत स्थित ताम चुक पैगोडा में वेसाक के 16 वें संयुक्त राष्ट्र दिवस के उद्घाटन समारोह में शामिल होंगे और मुख्य भाषण देंगे।

बौद्धों के लिए बहुत पवित्र माने जाने के कारण वेसाक को बुद्ध के जन्म, उनकी आत्मज्ञान की प्राप्ति और उनके निधन के उपलक्ष्य में मनाया जाता है।

इस कार्यक्रम में श्री नायडू की भागीदारी से भारत और दुनिया भर के बौद्ध समुदायों के बीच संबंधों में और मजबूती आने की उम्मीद है। इस आयोजन में दुनिया भर से 10,000 से अधिक बौद्ध अनुयायियों, 1,500 धार्मिक गणमान्य व्यक्तियों, शोधकर्ताओं, वैज्ञानिकों और अन्य लोगों को आकर्षित करने की आशा है।